ड्रैगन फ्रूट की खेती: जम्मू में किसानों को लाभकारी और सस्ता तरीका,जाने कब और कैसे करे खेती .

ड्रैगन फ्रूट की खेती। इस फसल के फलों से हो रहे अच्छे लाभ के कारण, किसान इसे अपने बाग बगीचों में उगाने का रुझान बढ़ा रहे हैं।

ड्रैगन फ्रूट की खेती: जम्मू में किसानों को लाभकारी और सस्ता तरीका,जाने कब और कैसे करे खेती .
X

ड्रैगन फ्रूट की खेती: जम्मू में किसानों को लाभकारी और सस्ता तरीका,जाने कब और कैसे करे खेती .

जम्मू के किसानों के लिए एक नई और लाभकारी खेती का सिलसिला शुरू हो रहा है - ड्रैगन फ्रूट की खेती। इस फसल के फलों से हो रहे अच्छे लाभ के कारण, किसान इसे अपने बाग बगीचों में उगाने का रुझान बढ़ा रहे हैं। इस लेख में, हम जम्मू में ड्रैगन फ्रूट की खेती के लाभ, उपाय, और इसमें निवेश करने के प्रस्ताव को विस्तार से जानेंगे।

ड्रैगन फ्रूट की खेती का विवरण:

ड्रैगन फ्रूट की खेती जम्मू, सांबा, और कठुआ जिलों में बढ़ती जा रही है। पांच बरस पहले कुछ किसानों ने इसे अपने बाग बगीचों में उगाना शुरू किया था, और उनकी सफलता ने इसे और भी लोकप्रिय बना दिया। विजयपुर के बलदेव राज जैसे किसान इससे अच्छा फायदा उठा रहे हैं और इसे अपनी खेती में बढ़ा रहे हैं।

ड्रैगन फ्रूट की खेती में निवेश का सस्ता तरीका:

ड्रैगन फ्रूट की खेती में एक अच्छी बात यह है कि इसमें एक बार निवेश करने के बाद आपको लंबे समय तक फल मिलता रहेगा। एक पौधा लगाने के बाद यह अगले 20-25 बरस तक आपको नियमित रूप से फल देगा और आप इससे निरंतर आय प्राप्त कर सकते हैं।

जम्मू की भूमि के लिए उपयुक्तता:

एक और महत्वपूर्ण तथ्य है कि जम्मू की भूमि ड्रैगन फ्रूट की खेती के लिए बेहतर है। इसमें उच्च पैदावार और गुणवत्ता की खासियत है, जो किसानों को अधिक उत्पाद प्राप्त करने में मदद करती है।

ड्रैगन फ्रूट की मांग और मूल्य:

बाजार में सफेद और लाल ड्रैगन फ्रूट की मांग में वृद्धि हो रही है। सफेद ड्रैगन का फल बाजार में 200 रुपये में उपलब्ध है, जबकि लाल ड्रैगन 400 रुपये तक बिक रहा है। इसमें निवेश करने से किसान अच्छा लाभ कमा सकते हैं और इससे होने वाले स्वास्थ्य लाभ को भी मदद मिलती है।

ड्रैगन फ्रूट के फायदे:

ड्रैगन फ्रूट गुणकारी तत्वों से भरपूर है, जो शरीर को कई रोगों से बचाने में मदद करते हैं। इसमें विटामिन, एंटीऑक्सीडेंट्स, और आवश्यक तत्वों की भरपूर मात्रा होती है, जिससे आपकी सेहत में सुधार होती है।

ड्रैगन फ्रूट की खेती में सावधानियां:

पूर्व तैयारी: खेती शुरू करने से पहले उचित तैयारी करें। मिट्टी की जाँच करें और आवश्यक उर्वरकों का सही समय पर प्रयोग करें।

सही पौधों का चयन: उचित और स्वस्थ पौधों का चयन करें जो फलने में सहायक हों।

पानी की आवश्यकता: पौधों को उचित मात्रा में पानी प्रदान करें और सुनिश्चित करें कि वे सही ढंग से सिंचाई हों।

ड्रैगन फ्रूट की खेती से संबंधित सरकारी योजनाएं:

जम्मू के किसानों के लिए सरकार द्वारा चलाई जा रही कई योजनाएं हैं जो उन्हें ड्रैगन फ्रूट की खेती में मदद कर सकती हैं। इसके लिए किसानों को स्थानीय कृषि विभाग से जुड़ना चाहिए और उन्हें योजनाओं के लाभ का हिस्सा बनने के लिए आवेदन करना चाहिए।

ड्रैगन फ्रूट की खेती से जुड़े आत्मविश्वास के साथ, जम्मू के किसान नए और लाभकारी किसानी क्षेत्र की ऊंचाइयों को छूने के लिए तैयार हैं। यह न केवल उन्हें आर्थिक रूप से सुस्त उपाय प्रदान करेगा बल्कि स्वस्थ जीवन जीने का भी एक सुनहरा मौका प्रदान करेगा।

ड्रैगन फ्रूट की खेती जम्मू के किसानों के लिए एक सशक्त और लाभकारी विकल्प है। इससे न केवल उन्हें अच्छा आय प्राप्त हो रहा है बल्कि इससे स्वास्थ्य लाभ भी हो रहा है। सरकार की योजनाओं का उपयोग करके किसान इस खेती में निवेश कर सकते हैं और अच्छा लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

Next Story
Share it