पुलिस अधिकारी से किसान बने अविनाश, सफेद चंदन की खेती से बना लाखों का मुनाफा, सिर्फ 5 पौधों से शुरू की थी खेती, आज ले रहे करोड़ों की इनकम

साल 2012 में अविनाश को सफेद चंदन की खेती का विचार आया था। उन्होंने सिर्फ 5 पौधों से खेती की शुरुआत की

पुलिस अधिकारी से किसान बने अविनाश, सफेद चंदन की खेती से बना लाखों का मुनाफा, सिर्फ 5 पौधों से शुरू की थी खेती, आज ले रहे करोड़ों की इनकम
X


पुलिस अधिकारी से किसान बने अविनाश, सफेद चंदन की खेती से बना लाखों का मुनाफा, सिर्फ 5 पेड़ों से शुरू की थी खेती, आज ले रहे करोड़ों की इनकम


पुलिस अधिकारी से किसान बने यह विचार बहुत ही अनोखा है, लेकिन यह संभव है! गोरखपुर जिले के एक युवक, अविनाश नामक व्यक्ति ने पुलिस सर्विस छोड़कर सफेद चंदन की खेती में कामयाबी हासिल की है.

सफेद चंदन की खेती का आविष्कार

साल 2012 में अविनाश को सफेद चंदन की खेती का विचार आया था। उन्होंने सिर्फ 5 पौधों से खेती की शुरुआत की, जो बहुत तेजी से बढ़ने लगे। इसके प्रेरणादायक परिणाम स्वीकार करते हुए उन्होंने कर्नाटक से 50 सफेद चंदन के पौधे खरीदे।

बचपन से खेती की तरफ रूझान

अविनाश ने बताया कि उनका बचपन से ही खेती-किसानी की ओर रुझान था। वह देशभर के कृषि विज्ञान केंद्रों और विश्वविद्यालयों का दौरा करके नई-नई तकनीक सीख चुके हैं, जो उन्हें खेतों में सफेद चंदन की खेती के लिए तैयार कर दिया।

सफेद चंदन की खेती

अविनाश का कहना है कि सफेद चंदन की खेती में अधिक देखभाल की आवश्यकता नहीं है। इसे बंजर जमीन पर भी की जा सकता है और इसके लिए कम पानी की आवश्यकता है। इसमें अरहर के पौधों का सहारा लेने का तरीका है, जिससे नाइट्रोजन और सुगंधित तेल मिलता है।

सफेद चंदन की खेती से आय

एक एकड़ में सफेद चंदन के 410 पौधे लगाए जा सकते हैं, जिससे करीब 1 लाख रुपये की लागत आती है। इससे निकलने वाली उत्पादों में औषधीय, साबुन, अगरबती, फर्नीचर, लकड़ी के खिलौने, परफ्यूम, और हवन सामग्री शामिल हैं।

समापन

अविनाश की यह कहानी हमें यह सिखाती है कि विचारशीलता और कठिनाईयों का सामना करने की क्षमता से किसान बनना संभव है। सफेद चंदन की खेती उनके लिए न केवल आर्थिक सफलता लाई है बल्कि उन्होंने नए रास्तों की खोज में भी कदम से कदम मिलाकर चला है।

Tags:
Next Story
Share it