किसानों को बड़ा झटका, खाद के दामों में हुई तेजी, एक बोरी खरीदने पर चुकाने पड़ेंगे 62 रूपये ज्यादा, खाद में तेजी से बढ़ सकते हैं फल और सब्जियों के दाम

अब इसका मूल्य 812 रुपए हो गया है। इससे नहीं सिर्फ खाद की कीमत बढ़ी है, बल्कि इसका सीधा प्रभाव फलों और सब्जियां के दामों पर भी हो रहा है।

किसानों को बड़ा झटका, खाद के दामों में हुई तेजी, एक बोरी खरीदने पर चुकाने पड़ेंगे 62 रूपये ज्यादा, खाद में तेजी से बढ़ सकते हैं फल और सब्जियों के दाम
X

किसानों को बड़ा झटका, खाद के दामों में हुई तेजी, एक बोरी खरीदने पर चुकाने पड़ेंगे 62 रूपये ज्यादा, खाद में तेजी से बढ़ सकते हैं फल और सब्जियों के दाम

हिमाचल प्रदेश में नए वर्ष के साथ ही किसानों और बागबानों को एक बड़ा झटका मिला है, क्योंकि सिंगल सुपर फास्फेट खाद के दामों में 62 रुपए की वृद्धि हो गई है। यह नकदी फसलों और फलों की पैदावार बढ़ाने में इस्तेमाल होने वाली एक बहुत जरूरी खाद है।

दामों में वृद्धि

हिमाचल प्रदेश के किसानों के लिए यह नई बात है, क्योंकि पहले यह खाद 50 किलो के बैग के लिए 750 रुपए में उपलब्ध थी, लेकिन अब इसका मूल्य 812 रुपए हो गया है। इससे नहीं सिर्फ खाद की कीमत बढ़ी है, बल्कि इसका सीधा प्रभाव फलों और सब्जियां के दामों पर भी हो रहा है।

किसानों की चुनौतियां

कुल्लू जिले के हिस्से के हिमफेड के एरिया मैनेजर विजेंद्र रावत ने बताया कि यह वृद्धि हुई है, जिससे प्रति बैग की सबसिडी 177 रुपए तक पहुंची है। यह स्थिति किसानों को अपनी जेब में और बोझ बढ़ाने का सामना करना पड़ेगा।

अन्य खादों के दाम

इसके अलावा, नेपीके 12:32:16, यूरिया, कैल्शियम नाइट्रेट, एनपीके 15:15:15, और एमओपी की खादों के दामों में भी वृद्धि हुई है। इससे किसानों को और भी चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा। कुल मिलाकर, खाद के दामों में हुई वृद्धि ने हिमाचल के किसानों को आर्थिक तंगी का सामना करने का सामना कराया है। सरकार से अपील है कि वह इस मुद्दे पर ध्यान देकर किसानों की समस्याओं का हल निकालें ताकि उनकी मेहनत का सही मूल्य मिल सके।

Tags:
Next Story
Share it