बड़ी खबर! नोएडा एयरपोर्ट के लिए 2053 जमीन का होगा अधिग्रहण, इन गांव के लोगों की होगी चांदी, मिलेगा मोटा पैसा

बड़ी खबर! नोएडा एयरपोर्ट के लिए 2053 जमीन का होगा अधिग्रहण, इन गांव के लोगों की होगी चांदी, मिलेगा मोटा पैसा
X

बड़ी खबर! नोएडा एयरपोर्ट के लिए 2053 जमीन का होगा अधिग्रहण, इन गांव के लोगों की होगी चांदी, मिलेगा मोटा पैसा

खेत खजाना : नोएडा एयरपोर्ट के लिए जमीन का अधिग्रहण नोएडा एयरपोर्ट का सपना जल्द ही हकीकत में बदलने वाला है। इसके लिए जेवर में 14 गांवों की 2053 हेक्टेयर जमीन का अधिग्रहण किया जाएगा। इस प्रक्रिया के लिए सोशल इंपैक्ट असेसमेंट (SIA) रिपोर्ट तैयार करके विशेषज्ञ समूह को प्रस्तुत की गई है। इस रिपोर्ट को मंजूरी मिल चुकी है। अब शासन की मुहर के बाद अधिग्रहण की आखिरी चरण में जाएगी।

इस अधिग्रहण से करीब 12 हजार परिवार प्रभावित होंगे। उनमें से 8600 परिवारों को विस्थापित करना पड़ेगा। इन परिवारों के लिए रिहायशी और व्यावसायिक सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। इसके अलावा, उन्हें जमीन के बदले में मुआवजा भी दिया जाएगा।

इस अधिग्रहण से निम्नलिखित गांव प्रभावित होंगे:

गांव जमीन

थोरा 583.6897 हेक्टेयर

नीमका शाहजहांपुर 301.3150 हेक्टेयर

ख्वाजपुर 272.8575 हेक्टेयर

रामनेर 213.9200 हेक्टेयर

किशोरपुर 95.8663 हेक्टेयर

बनवारीबास 84.4336 हेक्टेयर

पारोही 83.1226 हेक्टेयर

मुकीमपुर सिवारा 74.2800 हेक्टेयर

जेवर बांगर 63.8221 हेक्टेयर

साबौता मुस्तफाबाद 51.7680 हेक्टेयर

अहमदपुर चौरौली 28.3880 हेक्टेयर

दयानतपुर 13.3030 हेक्टेयर

बंकापुर 11.8989 हेक्टेयर

रोही 10.2441 हेक्टेयर

इन गांवों में से थोरा, रामनेर, नीमका शाहजहांपुर, ख्वाजपुर, किशोरपुर और बनवारीबास में तो पूरी तरह से विस्थापन होगा। इन गांवों में कुल 6258 निर्माण हैं, जिन्हें हटाना पड़ेगा। इनमें से 5524 स्थायी निर्माण, 407 उप स्थायी निर्माण, 198 अस्थाई निर्माण और 129 अन्य निर्माण हैं।

इस अधिग्रहण का उद्देश्य नोएडा एयरपोर्ट को विश्वस्तरीय बनाना है। इस एयरपोर्ट से न केवल यात्रियों को सुविधा मिलेगी, बल्कि इससे आसपास के क्षेत्रों का भी विकास होगा। इस एयरपोर्ट का निर्माण जल्द ही शुरू होगा और 2024 तक पूरा होने की उम्मीद है।

Tags:
Next Story
Share it