किसान भाई ध्यान दे! इस फसल की खेती से कमा सकते है साल में 8 लाख रुपए, जानिए बुवाई करने का सही तरीका

किसान भाई ध्यान दे! इस फसल की खेती से कमा सकते है साल में 8 लाख रुपए, जानिए बुवाई करने का सही तरीका
X

परवल, जिसे अधिकांश लोग पसंद करते हैं, एक ऐसी सब्जी है जो साल भर मार्केट में आसानी से उपलब्ध होती है। गर्मियों में इसकी खेती सबसे अधिक होती है और यह फसल उच्च मुनाफे के साथ उगाई जाती है। इसका बड़ा फायदा यह है कि एक बार खेती करने पर आप 9 महीनों तक इसका उत्पादन कर सकते हैं। बिहार में कई किसान इसे बड़े पैमाने पर उगा रहे हैं और इससे उनकी कमाई में वृद्धि हो रही है।

मायानंद विश्वास, एक किसान जो पूर्णिया जिले के बनेली सिंधिया में रहते हैं, परवल की खेती से बहुत आर्थिक सफलता प्राप्त कर चुके हैं। उन्होंने अपने गांव में 8 विभिन्न प्रकार के परवल की खेती शुरू की है। वे 2013 से परवल की खेती कर रहे हैं और इसमें बहुत अच्छा मुनाफा हो रहा है। उनका अनुभव है कि एक बार परवल की उगाई करने पर आप 9 महीने तक सब्जी निकाल सकते हैं, जो उन्हें लाखों रुपये का फायदा पहुंचा रहा है।

गांव आकर परवल की खेती शुरू कर दी

मायानंद विश्वास का कहना है कि सब्जियों में भी इंसान की तरह मेल-फीमेल जाति होती है। इसी वजह से वे पिछले 10 सालों से मेल-फीमेल दोनों के कंपोजिशन को मिलाकर परवल की खेती कर रहे हैं। उन्होंने खेती शुरू करने से पहले भागलपुर के सबौर कृषि विद्यालय से इसके बारे में विस्तृत जानकारी हासिल की थी। इसके बाद वे अपने गांव में आकर परवल की खेती शुरू कर दी।

इतने लाख रुपये की करते हैं कमाई

वर्तमान में, मायानंद विश्वास ने एक एकड़ में परवल की खेती की है, जिसमें 8 विभिन्न प्रकार की परवल फसल है। उनके अनुसार, यहाँ से वह 9 महीने में लगभग 8 लाख रुपये का मुनाफा कमा सकते हैं। उन्हें मालूम है कि कई किसान इसे उगाना नहीं चाहते क्योंकि उन्हें इसकी पूरी जानकारी नहीं होती। बहुत से किसानों को इसमें नुकसान भी होता है। इसलिए उन्हें अपने खेतों में मेल और फीमेल परवल के पौधे लगाने पड़ते हैं। उनका मानना है कि परवल के खेत में खाली जगहों पर वे अन्य फसलें भी उगाते हैं।

उनका कहना है कि वे सालभर में लागत काटकर 8 लाख रुपये का मुनाफा कमा लेते हैं. अभी किसान मायानंद विश्वास के खेत में राजेंद्र 2, स्वर्ण अलौकित,राजेंद्र 1, स्वर्ण रेखा, डंडारी, बंगाल ज्योति और दूदयारी वैरायटी का परवल लगा हुआ है.

Tags:
Next Story
Share it