किसानों की हुई बल्ले बल्ले! सरकार दे रही है कृषि उपकरणों की खरीद पर 50 लाख तक की सब्सिडी, ऐसे उठाए लाभ

किसानों की हुई बल्ले बल्ले! सरकार दे रही है कृषि उपकरणों की खरीद पर 50 लाख तक की सब्सिडी, ऐसे उठाए लाभ
X

देशभर में खेती को बढ़ावा देने के लिए कई योजनाएं चलाई जा रही हैं। सरकारें केंद्र से लेकर राज्य स्तर पर विभिन्न योजनाओं को लेकर काम कर रही हैं। खासकर खेती में इस्तेमाल होने वाले उपकरणों की मांग को देखते हुए सरकारें उन पर सब्सिडी प्रदान कर रही हैं, ताकि किसान आसानी से इन उपकरणों को खरीद सकें।

उत्तर प्रदेश सरकार भी किसानों को कृषि उपकरणों की खरीद पर 4 से 50 लाख तक का अनुदान प्रदान कर रही है। अगर आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं, तो 14 दिसंबर से पहले ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। किसान इस योजना का लाभ उठा कर बीज उत्पादन, छान व्यवस्थापन, पैकेजिंग, मोबाइल आउटलेट, और स्टोर स्थापित कर सकते हैं।

ई-लॉटरी से होगा चयन

बता दें कि कृषि यंत्र वितरण के लिए पहले आओ-पहले पाओ व्यवस्था को समाप्त कर दिया गया है और अब आवेदकों कृषि यंत्र वितरण की प्रक्रिया में अब आवेदकों का चयन ऑनलाइन आवेदनों के माध्यम से और ई-लॉटरी के जरिए किया जा रहा है, जिससे पहले की 'आओ-पहले पाओ' व्यवस्था समाप्त हो गई है।

10 हजार से अधिक अनुदान वाले कृषि यंत्रों की बुकिंग की प्रक्रिया 30 नवंबर से शुरू हो चुकी है। इसके लिए इच्छुक लोग 14 दिसंबर तक आवेदन कर सकते हैं। आवेदनों को 30 नवंबर से 14 दिसंबर तक जिलाधिकारी के अध्यक्षता में गठित जिला स्तरीय कार्यकारी समिति के सामने रखा जाएगा और विभागीय पोर्टल पर ई-लॉटरी का आयोजन किया जाएगा। इसमें ब्लॉकवार लक्ष्यों के लाभार्थी का चयन किया जाएगा।

चयन प्रक्रिया ऑनलाइन आवेदनों और ई-लॉटरी के माध्यम से हो रही है। 10 हजार से अधिक अनुदान वाले कृषि यंत्रों के लिए बुकिंग प्रक्रिया 30 नवंबर से शुरू हो गई है। इसके लिए इच्छुक लोग 14 दिसंबर तक आवेदन कर सकते हैं। 30 नवंबर से 14 दिसंबर तक मिले आवेदनों को जिलाधिकारी के अध्यक्षता में गठित जिला स्तरीय कार्यकारी समिति के सामने विभागीय पोर्टल पर ई-लॉटरी आयोजित की जाएगी। इसमें ब्लॉकवार लक्ष्यों के लाभार्थी का चयन किया जाएगा।

ऐसे करें आवेदन

लाभार्थी/कृषक विभागीय दर्शन पोर्टल https://agriculture.up.gov.in/ पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं. जहां आपको यंत्र पर अनुदान हेतु टोकन निकालें लिंक पर क्लिक कर आवेदन करना होगा. बता दें कि ई-लॉटरी के जरिए लाभार्थियों का चयन होगा.

ई-लॉटरी में चुने जाने वाले लाभार्थियों के अलावा 50 प्रतिशत तक की एक प्रतीक्षा सूची तैयार की जाएगी. लक्ष्य की पूर्ति न होने पर प्रतीक्षा सूची में से लाभार्थी का चयन किया जायेगा. ई-लॉटरी हेतु स्थल, तारीख एवं समय की जानकारी आवेदकों को संबंधित जनपदीय उप कृषि निदेशक उपलब्ध कराएंगे.

इन कृषि यंत्रों पर मिलेगा अनुदान

लेजर लैंड लेवलर, पोस्ट होल डीगर, पोटैटो प्लान्टर, पोटैटो डीगर, शुगर केन कटर प्लांटर, शुगर केन थ्रेस कटर, शुगर केन रेटून मैनैजर, हैरो, कल्टीवेटर, पावर स्प्रेयर, मल्टीक्रॉप थ्रेसर, पावर चैफ कटर, स्ट्रा रीपर, ब्रस कटर, मिनी राइस मिल, मिनी दाल मिल, मिलेट मिल, सोलर ड्रायर, ऑयल मिल विद फिल्टर प्रेस, पैकिंग मशीन, रोटावेटर, ट्रैक्टर माउण्टेड स्प्रेयर, ब्रिकेट मेकिंग मशीन, यूरिया डीप प्लेसमेन्ट एप्लीकेटर, सेल्फ प्रोपेल्ड यंत्र, पावर टिलर, पावर वीडर, कम्बाइन हार्वेस्टर विद सुपर एस.एम.एस., राइस ट्रांसप्लांटर, जीरो टिल मल्टीक्रॉप प्लांटर, मेज सेलर, हैप्पी सीडर, रीपर कम बाइण्डर, सामुदायिक श्रेसिंग फ्लोर, छोटा गोदाम, कस्टम हायरिंग सेन्टर, हाईटेक हब फॉर कस्टम हायरिंग आदि पर सरकार अनुदान दे रही है.

Tags:
Next Story
Share it