Flower Cultivation: किसान भाई ध्यान दे! इस फूल की खेती से हर महीने होगी 9 लाख की कमाई

Flower Cultivation: किसान भाई ध्यान दे! इस फूल की खेती से हर महीने होगी 9 लाख की कमाई
X

बुदेलखंड का नाम सुनते ही लोगों के मन में सूखे प्रदेश की छवि ताज़ा हो जाती है। यहाँ की अभावशीष्ट जलवायु की वजह से पानी की बहुत ही कमी है। बारिश यहाँ पर उत्तर प्रदेश के अन्य क्षेत्रों की तुलना में कम होती है। इस कारण से यहाँ के किसान अधिकांशतः मक्का और बाजरा जैसी मोटी फसलों की खेती करते हैं, जिससे उनकी आय कम होती है।

लेकिन अब, इन किसानों ने दूसरे राज्यों के किसानों की तरह आधुनिक फसलों की खेती शुरू कर दी है। इन नई खेती तकनीकों से, यहाँ के किसान अब बागवानी में भी दिलचस्पी ले रहे हैं और उनकी आमदनी में भी वृद्धि हो रही है।

बुदेलखंड क्षेत्र के किसान अब ब्लूकॉन फूल की खेती कर रहे हैं। यह एक प्रकार का विदेशी फूल है जिसकी खेती सिर्फ जर्मनी में होती थी। लेकिन अब बुंदेलखंड क्षेत्र में भी किसानों ने इसे उगाना शुरू कर दिया है। इस फूल की विशेषता है कि इसे सिंचाई की कम आवश्यकता होती है, अर्थात् इसे सूखे प्रदेशों में भी उगाया जा सकता है। जर्मनी के सूखे इलाकों में भी ब्लूकॉन की खेती की जाती है।

ब्लूकॉन का फूल 2000 रुपए प्रति किलो मिलता है

बुंदेलखंड और झांसी क्षेत्रों में अब ब्लूकॉन फूल की खेती को बढ़ावा देने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार प्रयासरत है। विशेषज्ञों के मुताबिक, यहाँ की जलवायु ब्लूकॉन फूल की खेती के लिए उपयुक्त मानी जा रही है। कृषि विभाग नर्सरी में इन फूलों की विकसित कर रहा है और सरकार किसानों को इन पौधों के सप्लाई कर रही है। बाजार में ब्लूकॉन का फूल प्रति किलो 2000 रुपये मिल रहा है।

9 लाख रुपये कमा सकते हैं

खास बात यह है कि अगर आप एक बीघे में इसकी खेती करते हैं, तो आप रोज 15 किलो तक फूल तोड़ सकते हैं. यानि कि आप एक बीघे जमीन से रोज 30 हजार रुपये की कमाई कर सकते हैं. इस तरह किसान भाई महीने में फूल बेचकर 9 लाख रुपये कमा सकते हैं.

Tags:
Next Story
Share it