Goats Top Five Breeds: बकरी की इन टॉप पांच नस्लों से कम सकते है लाखों रुपए, जानिए खासियत और विशेषताएं

Goats Top Five Breeds: बकरी की इन टॉप पांच नस्लों से कम सकते है लाखों रुपए, जानिए खासियत और विशेषताएं
X

Goat Farming: किसान अधिक कमाई के लिए खेती के साथ-साथ पशुपालन भी करते हैं। यदि आप भी पशुपालन करना चाहते हैं, तो बकरी पालन सबसे अच्छा विकल्प हो सकता है। यह बिजनेस किसानों को कम समय और लागत में अच्छा मुनाफा दिलाता है। बकरी पालन का बिजनेस साल भर चलता है।

इसके लिए किसानों को बकरी की उन्नत नस्लों का चयन करना चाहिए। इस संदर्भ में, आज हम पशुपालन करने वाले किसानों के लिए टॉप पांच उन्नत बकरी नस्लों की जानकारी लेकर आए हैं। इनमें सिरोही बकरी, ब्लैक बंगाल, ओस्मानाबादी, गुजरी बकरी, और सोजत बकरी शामिल हैं।

बकरी की टॉप पांच उन्नत नस्लें/ Top Five Breeds of Goat

बकरी की सिरोही नस्ल - बकरी सिरोही नस्ल - अजमेर, बांसवाड़ा, राजसमंद, और उदयपुर के क्षेत्रों के लिए सबसे उत्तम मानी जाती है। इस नस्ल की बकरी का मांस और दूध दोनों ही बाजार में अधिक मूल्यवान होता है। इस नस्ल की बकरी 18 से 24 महीने में पहली बार बच्चे को जन्म दे देती है।

बकरी की ब्लैक बंगाल नस्ल - यह नस्ल दक्षिण और पश्चिमी बंगाल, बिहार, झारखंड, असम, मेघालय, और त्रिपुरा क्षेत्रों में अधिक मिलती है। इस नस्ल की बकरी के पैर छोटे होते हैं और उनका रंग काला होता है। इन ब्लैक बंगाल नस्ल की बकरियों के बाल छोटे और चमकीले होते हैं। बाजार में इस नस्ल की बकरी का मांस बहुत ही मूल्यवान होता है।

बकरी की ओस्मानाबादी नस्ल - यह नस्ल उस्मानाबाद, परभणी, अहमदनगर और सोलापुर क्षेत्रों में पाई जाती है। इस नस्ल की बकरी का पालन अधिकतर मांस के लिए किया जाता है। इसमें मांस में काफी अधिक प्रोटीन होता है, जिसके कारण बाजार में इसके मांस की कीमत उच्च होती है। ओस्मानाबादी नस्ल की बकरी साल में दो बार बच्चे जन्म देती है।

बकरी की गूजरी बकरी- बकरी की यह नस्ल बाजार में अच्छे मांस व अच्छे क्वालिटी का दूध देने के लिए जानी जाती है. गूजरी बकरी आकार में काफी बड़ी होती है. यह अधिक मात्रा में दूध देने के लिए भी जानी जाती है. जयपुर, अजमेर और टोंक के क्षेत्रों के द्वारा गूजरी बकरी का पालन सबसे अधिक किया जाता है.

बकरी की सोजत नस्ल- बकरी की यह नस्ल भी राजस्थानी क्षेत्रों में सबसे अधिक पाली जाती है. बकरी की यह नस्ल दिखने में काफी सुंदर लगती है, जिसके चलते बाजार में इसके दाम अधिक होते हैं. सोजत नस्ल की बकरी दूध की कम देती है, लेकिन इसके मांस में काफी अधिक प्रोटीन पाया जाता है. इसलिए सोजत बकरी को मुख्यतौर पर मांस के लिए ही पाला जाता है.

Tags:
Next Story
Share it