PM Kisan: किसान भाई ध्यान दे! अगर e-KYC कराने के बाद भी खाते में नहीं आए पैसे, ऐसे करे जाँच

PM Kisan: किसान भाई ध्यान दे! अगर e-KYC कराने के बाद भी खाते में नहीं आए पैसे, ऐसे करे जाँच
X

PM Kisan e-KYC: प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan Samman Nidhi Yojana) के जरिए हर साल छोटे और सीमांत किसानों को 6,000 रुपये की आर्थिक सहायता तीन समान किस्तों में दी जाती है। इससे उन्हें कृषि उपकरण खरीदने में मदद मिलती है और उनकी कृषि गतिविधियों को स्थिर करने में सहायता होती है।

पीएम किसान योजना (PM Kisan Scheme) विश्व की सबसे बड़ी डीबीटी स्कीमों में से एक है। सरकार ने हाल ही में, 15 नवंबर 2023 को किसानों के खातों में 15वीं किस्त जमा की थी। लेकिन यद्यपि किसानों का नाम लिस्ट में होने के बावजूद, अगर किसानों के खाते में 15वीं किस्त का अनुमानित राशि 2,000 रुपये नहीं पहुंची हो, तो इसके पीछे कई कारण हो सकते हैं।

हो सकती है ये वजह

पीएम किसान योजना (PM Kisan Yojana) में किस्त न आने की कई वजहें हो सकती हैं। जैसे ई-केवाईसी (e-KYC), भू-सत्यापन, और आधार (Aadhaar) लिंक नहीं करवाना। इसे जान लें कि बेनिफिशियरी लिस्ट में नाम होने के बावजूद, किसानों को अपना ई-केवाईसी और आधार सीडिंग करवाना अत्यंत आवश्यक होता है। यदि इसे न करें तो किसान पीएम किसान योजना की किस्त से वंचित हो सकते हैं।

यदि आपने ये सभी महत्त्वपूर्ण काम पूरे किए हैं, और फिर भी किस्त नहीं मिली, तो इसे शिकायत के तौर पर दर्ज करा सकते हैं। इसके बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए, आप अपने संबंधित कृषि समन्वयक, किसान सलाहकार, जिला कृषि कार्यालय और जिले के प्रमुख डाकघर में इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक (IPPB) के अधिकारियों से संपर्क कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त, आप पीएम किसान हेल्पलाइन नंबर 155261 या 011-24300606 पर संपर्क कर सकते हैं।

किसान e-मित्र चैटबोट

पीएम किसान एआई चैटबॉट - किसान e-मित्र के माध्यम से किसान अपनी भाषा में लिखकर या बोलकर पीएम किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan Samman Nidhi Yojana) से जुड़े हर सवाल का जवाब मोबाइल स्क्रीन से http://chatbot.pmkisan.gov.in पर क्लिक करके पूछ सकते हैं. पीएम किसान एआई चैटबोर्ट (किसान ई-मित्र) 10 भाषाओं में उपलब्ध है. हिंदी, अंग्रेजी, तमिल, बंगाली, ओड़िया, मलयालम, बंगाली, गुजराती, मराठी, तेलेगु भाषा में अपनी समस्या का हल पा सकते हैं.

Tags:
Next Story
Share it