जीरे की कीमतों में चार गुना बढ़ोतरी, आम आदमी की थाली से गायब हो रहा है तड़का

भारतीय रसोईघरों में दाल-सब्जी को चटकीला बनाने वाला तड़का अब आम जनता के लिए दूर हो रहा है।

जीरे की कीमतों में चार गुना बढ़ोतरी, आम आदमी की थाली से गायब हो रहा है तड़का
X

भारतीय रसोईघरों में दाल-सब्जी को चटकीला बनाने वाला तड़का अब आम जनता के लिए दूर हो रहा है। जहां एक तरफ टमाटर तो पहले ही लोगों की प्लेट से गायब हो गया है, वहीं दूसरी तरफ जीरा भी दामों के मामले में आसमान को छू रहा है।

जीरे की कीमतों में पिछले कुछ समय में रेट के अंदर इजाफा हो रहा है, जीरे के दाम सुन हर आम आदमी को हैरानी हो रही। जनवरी में जीरे का दाम 200 रुपये प्रति किलो था जो अब तक बढ़कर 800 रुपये प्रति किलो हो गया। इस भारी चढ़ाई के पीछे कई वजहें बताई जा रही हैं।

कुछ व्यापारियों का कहना है कि इस चढ़ाई का कारण फसल की कमी है, जबकि कुछ आढ़तियों का मानना है कि इसे माल का डंप करने का नतीजा माना जा सकता है। गुजरात में मार्च में हुई बारिश के कारण जीरे के दामों में लगातार इजाफा हो रहा है।

जीरे के साथ-साथ अन्य खाद्य पदार्थों के दामों में भी तेजी से इजाफा हुआ है, जिससे लोगों की जेब पर भारी असर पड़ा है। इससे रसोई का बजट पूरी तरह से बिगड़ गया है।

इस चढ़ाई का सीधा प्रभाव आम जनता की जेब पर पड़ा है, जिससे उनकी मासिक बचत में कटौती हुई है। खास तौर पर उन परिवारों पर जिनका बजट पहले से ही कम है, उन्हें अपने खर्चों में और ज्यादा कमी करनी पड़ रही है।

Next Story
Share it