Tomato Variety: टमाटर की ये पांच किस्में किसानों को कर देगी मालामाल! जानिए बुवाई करने का सही तरीका

Tomato Variety: टमाटर की ये पांच किस्में किसानों को कर देगी मालामाल! जानिए बुवाई करने का सही तरीका
X

Hybrid Varieties of Tomato: टमाटर की खेती किसानों के लिए बहुत फायदेमंद होती है। इसकी मांग बाजार में साल भर बनी रहती है, जिससे किसान अच्छी कमाई कर सकते हैं। अगर किसान हाइब्रिड टमाटर की खेती करते हैं, तो वे कम समय में ज्यादा मुनाफा कमा सकते हैं।

आज हम देश के किसानों के लिए रबी सीजन में उगाई जाने वाली टमाटर की टॉप पांच हाइब्रिड किस्मों की जानकारी लेकर आए हैं। इन हाइब्रिड किस्मों में अर्का रक्षक, अर्का अभेद, दिव्या, अर्का विशेष और पूसा गौरव शामिल हैं। ये सभी किस्में लगभग 140 दिनों में तैयार हो जाती हैं और 70 से 80 टन प्रति हेक्टेयर उत्पादन देने में सक्षम होती हैं।

टमाटर की टॉप पांच हाइब्रिड किस्में

टमाटर की अर्का रक्षक किस्म के फल गहरे लाल रंग के होते हैं। इस किस्म को पत्ती, मोड़क विषाणु, जीवाणु झुलसा और अगेती धब्बे के खिलाफ प्रतिरोधी माना जाता है। यह किस्म लगभग 140 दिनों में पूरी तरह से पक जाती है। किसान इससे प्रति हेक्टेयर 75 से 80 टन उत्पादन कर सकते हैं। इस किस्म के टमाटर का वजन लगभग 75 से 100 ग्राम होता है।

टमाटर की अर्का अभेद किस्म

टमाटर की अर्का अभेद किस्म लगभग 140 से 145 दिन में पक जाती है. किसान इस किस्म से प्रति हेक्टेयर 70 से 75 टन तक उत्पादन पा सकते हैं. वहीं, इस किस्म के टमाटर का वजन 70 से 100 ग्राम पाया जाता है.

टमाटर की दिव्या किस्म

यह टमाटर की किस्म लगभग 75 से 90 दिनों में पूरी तरह से पक जाती है। यह पछेता झुलसा और आंख सड़न रोग के खिलाफ प्रतिरोधी होती है। दिव्या किस्म के टमाटर का वजन लगभग 70 से 90 ग्राम होता है। बाजार में इसकी बहुत अधिक मांग होती है, क्योंकि यह टमाटर लंबे समय तक ताजा रहते हैं।

टमाटर की अर्का विशेष किस्म

टमाटर की इस किस्म का इस्तेमाल कई तरह के उत्पादों को बनाने के लिए किया जाता है. अर्का विशेष किस्म के टमाटर प्रति हेक्टेयर 750-800 क्विंटल उत्पादन देने में सक्षम है. वहीं, इस किस्म के टमाटर के एक फल का कुल वजन 70 से 75 ग्राम पाया जाता है.

टमाटर की पूसा गौरव किस्म

इस किस्म के टमाटर एक दम लाल रंग के होते हैं और साथ ही यह टमाटर आकार में बड़े व चिकने होते हैं. टमाटर की इस किस्म के फल को देश के बाजारों के साथ-साथ विदेशों में भी भेजा जाता है.

Tags:
Next Story
Share it