बुलडोजर का कहर: 39 बीघा जमीन हड़पने वालों पर चला पलड़ा, अवैध कॉलोनियां ध्वस्त

Subhash Hudda
By Subhash Hudda

बुलडोजर का कहर: 39 बीघा जमीन हड़पने वालों पर चला पलड़ा, अवैध कॉलोनियां ध्वस्त

खेत खजाना, 13 जून, बरेली: अवैध निर्माण के खिलाफ बरेली विकास प्राधिकरण (बीडीए) का अभियान लगातार जारी है। इसी क्रम में बुधवार को बीडीए की टीम ने कैंट के कांधरपुर क्षेत्र में 39 बीघा जमीन पर कब्जा कर बनाई गई चार अवैध कॉलोनियों को ध्वस्त कर दिया। कॉलोनाइजरों ने किसानों से सस्ती जमीनें खरीदकर बिना नक्शा पास कराए ही निर्माण कार्य शुरू कर दिया था। बीडीए की इस कार्रवाई से कॉलोनाइजरों में भारी हड़कंप मच गया है।

किसानों की जमीन पर कब्जा कर बनाई गई थीं कॉलोनियां

बीडीए उपाध्यक्ष मनिकंडन ए ने बताया कि कांधरपुर क्षेत्र में तौफीक, सत्यपाल पटेल, शमशाद और गजेंद्र नामक व्यक्तियों द्वारा क्रमशः 10 बीघा, 9 बीघा, 8 बीघा और 12 बीघा जमीन पर अवैध कॉलोनियां विकसित की जा रही थीं। बिना विकास प्राधिकरण की स्वीकृति के इन कॉलोनियों में सड़कें, नालियां, भूखंडों का चिह्नीकरण और साइट ऑफिस का निर्माण किया जा रहा था।

नगर योजना अधिनियम के तहत हुई कार्रवाई

अवैध कॉलोनियों के खिलाफ बीडीए की सहायक अभियंता हरीश चौधरी, लक्ष्मण सिंह रावत और अवर अभियंता सहित प्रवर्तन टीम ने उत्तर प्रदेश नगर योजना एवं विकास अधिनियम-1973 की धाराओं के तहत ध्वस्तीकरण की कार्रवाई को अंजाम दिया। इससे पहले बीडीए ने सोमवार को भी 54 बीघा जमीन पर बनी चार अवैध कॉलोनियों को ध्वस्त कर दिया था।

कॉलोनाइजरों में मची खलबली

बीडीए की लगातार हो रही कार्रवाई से अवैध कॉलोनियां बनाने वाले कॉलोनाइजरों में खलबली मची हुई है। वहीं, किसानों ने बीडीए के इस कदम का स्वागत किया है। उनका कहना है कि बीडीए की इस कार्रवाई से उन्हें अपनी जमीन वापस मिलने की उम्मीद है।

Share This Article