किसान भाइयो के लिए खुशखबरी! अब डीजल पंपसेट से फसलों की सिंचाई पर बंपर सब्सिडी, यहां करें आवेदन

किसान भाइयो के लिए खुशखबरी! अब डीजल पंपसेट से फसलों की सिंचाई पर बंपर सब्सिडी, यहां करें आवेदन
X

खरीफ फसलों की तुलना में रबी फसलों को अधिक सिंचाई की जरूरत होती है। लेकिन संसाधनों की कमी के कारण किसान अक्सर अपनी फसलों को उचित रूप से सिंच नहीं पाते हैं, जिससे फसल की उत्पादनता पर असर पड़ता है। इस समस्या को ध्यान में रखते हुए बिहार सरकार ने कृषि सिंचाई के लिए किसानों को डीजल की सब्सिडी देने का निर्णय लिया है।

खरीफ फसलों के लिए अधिकतम 8 एकड़ भूमि की सिंचाई

डीजल पंपसेट के तहत दलहनी, तिलहनी, मौसमी सब्जी, औषधीय और सुगंधित पौधों की प्रति एकड़ तक अधिकतम तीन सिंचाई के लिए 2250 रुपये की अनुदान राशि निर्धारित की गई है। खरीफ फसलों के लिए, अधिकतम 8 एकड़ भूमि की सिंचाई हो सकती है और इसके लिए किसानों को प्रति एकड़ या प्रति सिंचाई के लिए 750 रुपये का अनुदान मिलेगा। साथ ही, किसानों को प्रति लीटर डीजल के 75 रुपये का भी अनुदान प्रदान किया जाएगा।


यहां आवेदन करें किसान

राज्य सरकार डीजल अनुदान का लाभ रैयत और गैर रैयत सभी किसानों को देगी. जहां रैयत किसान आवेदन करने के दौरान लगान की रसीद अपलोड करेगा. वहीं दूसरे की जमीन पर खेती करने वाले किसानों की जांच वार्ड सदस्य, वार्ड पार्षद, मुखिया, सरपंच,पंचायत समिति में से किसी एक द्वारा या कृषि समन्वयक के द्वारा की जाएगी. इस योजना के लिए किसान को कृषि विभाग के आधिकारिक वेबसाइट https://onlinedbtagriservice.bihar.gov.in/Diesel2324 या https://dbtagriculture.bihar.gov.in पर जाकर आवेदन करना होगा.

22 जुलाई से शुरू हो चुका है अनुदान

सरकार द्वारा जारी नोटिफिकेशन के मुताबिक किसान डीजल अनुदान के लिए 22 जुलाई से आवेदन की शुरुआत हो गई है. डीजल अनुदान का लाभ पंजीकृत किसानों को ही मिलेगा. सत्यापान के बाद अनुदान की राशि किसानों के खाते में भेजी जाएगी. आवेदन करते वक्त किसान बैंक खाते की सही जानकारी भरें.

Tags:
Next Story
Share it