किसानों के लिए खुशखबरी! आंवला-नींबू की खेती करने पर मिल रही है 50% सब्सिडी, यहां करें आवेदन

किसानों के लिए खुशखबरी! आंवला-नींबू की खेती करने पर मिल रही है 50% सब्सिडी, यहां करें आवेदन
X

Sarkari Yojna: केंद्र और राज्य सरकारें किसानों की आय को बढ़ाने के लिए नई योजनाओं का शुभारंभ करती रहती हैं। इसी श्रृंखला में बिहार सरकार ने भी एक महत्वपूर्ण निर्णय लिया है। वह फसल विविधीकरण योजना के तहत 'शुष्क बागवानी' परियोजना को आरंभ किया है। इस कार्यक्रम के अंतर्गत, आंवला, नींबू, बेल, और कटहल उत्पादन करने वाले किसानों को सब्सिडी प्रदान की जा रही है।

सरकार ने इन फसलों को बढ़ावा देने का निर्णय इसलिए लिया है क्योंकि इनका फसल विविधीकरण और जलवायु परिवर्तन पर प्रभाव अध्ययन के मुताबिक अच्छा रहा है। यदि आप बिहार से संबंधित हैं और इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं, तो आपको इसके लिए आवेदन करना होगा। ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया 29 नवंबर 2023 से शुरू हो चुकी है।

इन जिलों के किसान उठा सकते हैं लाभ

बिहार के 7 जिलों में निवास करने वाले किसान इस योजना का फायदा उठा सकते हैं। इसमें गया, जमुई, मुंगेर, नवादा, औरंगाबाद, कैमूर, और रोहतास जिले शामिल हैं। यह योजना खासकर इन जिलों के लिए तैयार की गई है क्योंकि इन जगहों पर मानसून की बारिश काफी कम होती है।

इसके लिए, शुष्क बागवानी को प्रोत्साहित करने का उद्देश्य इन जिलों को चुना गया है। सरकार का कहना है कि इन शुष्क फसलों की खेती से किसान अच्छी आय कमा सकते हैं। इस योजना के लिए इच्छुक किसानों को कम से कम 5 पौधे और अधिकतम 4 हेक्टेयर जमीन में योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं।

कुल लागत पर मिलेगी इतनी सब्सिडी

कृषि विभाग ने एक ट्वीट करके इस योजना की जानकारी दी है। उद्यान निदेशालय, कृषि विभाग ने अपने ट्वीट के माध्यम से बताया है कि फसल विविधीकरण योजना के तहत शुष्क बागवानी कार्यक्रम में किसानों को आंवला, नींबू, बेल और कटहल की खेती के लिए 50 फीसदी सब्सिडी प्रदान की जाएगी।

इस योजना के अंतर्गत, प्रति हेक्टेयर 400 आंवला और नींबू के पौधे लगाए जा सकते हैं, और बेल, कटहल के 100 पौधे भी लगाए जा सकते हैं। किसानों को प्रति हेक्टेयर 50 फीसदी या अधिकतम 50 हजार रुपये तक की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

योजना के लिए ऐसे करें आवेदन

'फसल विविधीकरण योजना' के तहत इन फसलों पर सब्सिडी का लाभ उठाने के लिए किसान आधिकारिक वेबसाइट https://horticulture.bihar.gov.in पर जाकर आवेदन कर सकते हैं. इसके लिए वेबसाइट पर जाकर'आवेदन लिंक' पर क्लिक करें और फॉर्म भरकर उसे सबमिट कर दें. अधिक जानकारी के लिए, उन्हें संबंधित जिले के सहायक निदेशक उद्यान से संपर्क कर सकते हैं.

Tags:
Next Story
Share it