Solar Subsidy Yojana 2024 : किसानों के लिए बड़ी खुशखबरी: अब अपनी पसंद की मोटर के साथ ले सकते हैं सोलर पंप, ये लगेंगे दस्तावेज?

Subhash Hudda
By Subhash Hudda

किसानों के लिए बड़ी खुशखबरी: अब अपनी पसंद की मोटर के साथ ले सकते हैं सोलर पंप, ये लगेंगे दस्तावेज?

Solar Subsidy Yojana 2024  : खेत खजाना: केंद्र सरकार द्वारा किसानों के लिए शुरू की गई प्रधानमंत्री कुसुम सोलर सब्सिडी योजना में एक बड़ा बदलाव किया गया है। पहले योजना के तहत किसानों को मिलने वाले सोलर पंप के साथ सिर्फ निर्धारित कंपनियों की मोटर ही लगाई जा सकती थी। लेकिन अब सरकार ने किसानों को राहत देते हुए यह घोषणा की है कि वे अब अपनी पसंद की किसी भी कंपनी की मोटर अपने सोलर पंप के साथ लगा सकते हैं।

यह बदलाव किसानों के लिए बहुत फायदेमंद है, क्योंकि अब वे अपनी पसंद और जरूरत के अनुसार मोटर का चुनाव कर सकते हैं। इससे किसानों को बेहतर गुणवत्ता वाली मोटर मिलने की संभावना बढ़ जाती है और उनकी सिंचाई व्यवस्था भी अधिक कुशल हो सकती है।

पीएम कुसुम सोलर सब्सिडी योजना क्या है?

प्रधानमंत्री कुसुम सोलर सब्सिडी योजना भारत सरकार द्वारा किसानों को सोलर पंप लगाने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए शुरू की गई एक पहल है। इस योजना का उद्देश्य किसानों को सिंचाई के लिए सौर ऊर्जा का उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित करना है, जिससे उन्हें बिजली की बढ़ती लागत से बचाने में मदद मिलेगी।

योजना के तहत सरकार किसानों को सोलर पंप की लागत पर 90% तक की सब्सिडी प्रदान करती है। शेष 10% राशि किसानों को खुद वहन करनी होती है। योजना के तहत, किसान 2 हॉर्स पावर से 10 हॉर्स पावर तक के सोलर पंप के लिए सब्सिडी प्राप्त कर सकते हैं।

कौन से किसान योजना का लाभ उठा सकते हैं?

पीएम कुसुम सोलर सब्सिडी योजना का लाभ निम्नलिखित किसान उठा सकते हैं:

छोटे और सीमांत किसान
अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के किसान
महिला किसान
उत्तर पूर्वी राज्यों के किसान
योजना के लिए आवेदन कैसे करें?

पीएम कुसुम सोलर सब्सिडी योजना के लिए आवेदन करने के लिए, किसानों को अपने नजदीकी कृषि विज्ञान केंद्र (KVK) या कृषि विभाग कार्यालय में जाना होगा। आवेदन पत्र KVK या कृषि विभाग की वेबसाइट से भी डाउनलोड किया जा सकता है।

आवश्यक दस्तावेज:

आधार कार्ड
पैन कार्ड
भूमि का स्वामित्व प्रमाण पत्र
बैंक खाता पासबुक
जमाबंदी पासबुक
जाति प्रमाण पत्र (यदि लागू हो)
सब्सिडी कैसे प्राप्त करें?

योजना के तहत सब्सिडी सीधे किसान के बैंक खाते में जमा की जाती है। KVK या कृषि विभाग द्वारा सोलर पंप स्थापित किए जाने के बाद, सब्सिडी राशि किसान के बैंक खाते में जमा कर दी जाती है।

पीएम कुसुम सोलर सब्सिडी योजना के लाभ:

पीएम कुसुम सोलर सब्सिडी योजना के कई लाभ हैं, जिनमें शामिल हैं:

बिजली की लागत में कमी: सोलर पंप बिजली से चलने वाले पंपों की तुलना में बहुत कम ऊर्जा का उपयोग करते हैं, जिससे किसानों को बिजली की लागत में काफी बचत होती है।

पर्यावरण संरक्षण: सोलर पंप स्वच्छ ऊर्जा का उपयोग करते हैं, जिससे पर्यावरण को प्रदूषण से बचाने में मदद मिलती है।

आय में वृद्धि: सोलर पंप का उपयोग करके सिंचाई करने से किसान अधिक फसल उगा सकते हैं, जिससे उनकी आय में वृद्धि हो सकती है।

Share This Article